Sunday, September 4, 2016

RAAKHI KE LAAJ: FILM ON LOVE & AFFECTION BETWEEN SIBLINGS




नारी सशक्तिकरण आ भाय-बहिनक अटूट बंधन, प्रेम आ स्नेह पर आधारित सामाजिक ओ परिवारिक फ़िल्मक निर्माण बड्ड कम्मे भेल अछि। बहुत दिनसं एहि प्रकारके फ़िल्मक खगता छल। मुदा एहि कमीके निराकरण करबाक उद्देश्यसं मैथिली सिनेप्रेमीक बीच एकटा सुन्नर मैथिली फ़िल्म आबि रहल अछि जकर नाम अछि “राखी के लाज”।

आनन्द फ़िल्म्स प्रोडक्शन हाउस केर बैनरक अधीन सुरेश मंडल द्वारा निर्मित फ़िल्म “राखी के लाज”क निर्देशन केने छैथ समस्तीपुर जिलाक दशौथ गामवासी युवा मैथिल निर्देशक नरेश मंडल । फ़िल्मक पटकथा आशुतोष सागर लिखने छथि। राम रसिला, आशुतोष सागर, नरेश मंडल, मंजु श्री दुबे, कंचन सिंह, सोनी, मोहन झा, सुश्मिता, जय कृष्णा दत्ता, राम सकल महतो अभिनित एहि फ़िल्ममे संगीत देने छैथ मनिष, रोहित आ प्रमोद। गीतक बोलके स्वर देने छैथ मनीषा विस्वास, मनीष नंदन झा, चंदन चंदन आसियाना, डॉली रानी, सोहेल सुल्तान, सोनी, पारस मनी, धरमवीर झा, आ सुष्मा झा। पवन मिश्राक सिनेमेटोग्राफ़ी ठीक ठाक बुझना जा रहल अछि। 2015मे शुरु भेल एहि फ़िल्मक शूटिंग समस्तीपुर, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा आदि जेहन प्रसिद्ध स्थान पर कएल गएल अछि
 

  निर्देशक नरेश मंडल जी गायक उदित नारायणक संग
“राखी के लाज”क प्रमोशन टीजर जारी भs गेल अछि। प्रमोशन टीजर देखलाक बाद ई लगैत अछि जे किछु तकनीकी कमी आ साउण्ड संबंधी त्रुटिके छोड़िकए ई फ़िल्म ठीक- ठाक अछि। अप्पन भाषाक फ़िल्म रुपी लड्डू कतबो टेढ मेढ होउ, मनोरंजनक स्वाद मीठगरे होयत छैक।

“राखी के लाज” जल्दिये रीलीज होमय बला अछि। फ़िल्मक सफ़लताक लेल शुभकामना आ फ़िल्मसं जुड़ल सबलोकिनकें अप्पन भाषा मैथिलीमे फ़िल्म बनेबाक लेल हृदयसं धन्यवाद !



Saturday, September 3, 2016

NAMRI LUCHHA: MAITHILI ALBUM VIDEO



मैथिली गीतक माधुर्यसं आइ के नहि अवगत अछि? कहबाक आवश्यकता नहि जे मैथिली गीतक अपन गौरवमयी परम्परा रहल अछि। लोकगीत हो वा संस्कार गीत वा हास्य गीत, मिथिलामे मैथिलीक मधुर बोल प्रत्येक मैथिलक कंठमे बसल रहैत अछि।

मैथिलीमे ओना तs नित दिन गीतक एलबम बहराईत रहैत अछि, मुदा कानफ़ारु संगीतसं मैथिलीक गीत-संगीतक सुदीर्घ परम्पराकें आगू बढबामे विफ़ल होयत रहल अछि। भोजपुरी गीत-संगीतक तर्ज पर बनाओल गेल एहन गीतक सीडी मात्र किछुये दिन चललाक बाद गीत-प्रेमी हृदय ओ मानससं झटसं विस्मृत भजायत अछि।

किछु मासपूर्व मुम्बई स्थित किछु मैथिली प्रेमी गायक, गीतकार, संगीतकार, अभिनेता आ निर्देशक केर सहयोगसं प्रस्तुत म्यूजिक एलबम विडियो नमरी लुच्चामैथिली गीत प्रेमीके अपन सुन्दरतम प्रस्तुति दिस ध्यान आकृष्ट करबामे सफ़ल बूझना जा रहल अछि। एक्स्ट्रीम पिक्चर्स आ प्रवेश मल्लिक प्रोडक्शन्स केर बैनरके अनत्रग्त निर्मित मैथिलीक एकल विडियो एल्बम नमरी लुच्चाअपन कर्नप्रिय गीत-संगीत आ मैथिलीक खांटी बोलक सं संग प्रभावपूर्ण प्रस्तुतीकरण बलबूते आई मैथिली गीत प्रेमीकें बड्ड बेसी प्रभावित कएने अछि। मिथिलाक विभिन्न भागमे चर्चित आ लोकप्रिय एहि एलबमक गीतके लिखने छैथ प्रवेश मल्लिक। प्रवेश मल्लिकए के संगीतमे एकर धुन तैयार भेल अछि। हुनक संगीत संयोजन प्रशंसनीय अछि। गायक प्रेम प्रकाश कर्णक डबल रोल- गायनक आ अभिनयक दुनू गजबके लागि रहल अछि। प्रेमक आवाजमे जे खनक अछि ओ ई साबित करहल अछि जे आबय बला समयमे फ़िल्मक लेल प्लेबैक सिंगिंगमे एकटा पैघ नाम होयताह! बॉलिवुडक उदीयमान अभिनेता संजीब पूनम मिश्राक दमदार अभिनय देखबा योग्य अछि। अभिनेत्री आफ़रीनक अदायगी मैथिली ललनाकें अभिनय दिस डेग आबय लेल एकटा अलगे संदेश दs रहल अछि। मिथिला-मैथिलीक गौरवपूर्ण इतिहास पर आ मिथिलाक सामाजिक कुव्यवस्था बहुत रास डॉक्यूमेंटरी बनेनिहार, ‘मुखियाजी फ़िल्मक सफ़ल निर्देशनसं चर्चित युवा निदेशक विका झाक सिनेमेटोग्राफ़ी, सम्पादन आ निर्देशन प्रभावित करैत अछि। मुदा, विडियोक जेना नीक प्रारंभ भेल अछि, ओना अंत नहि।

नमरी लुच्चाक विडियो देखलाक बाद ई लगैत अछि कि ई कोनो आगामी मैथिली फ़िल्मक प्रोमोशन के लेल बनाओल गेल म्यूजिक विडियो अछि। एकर लोकप्रियता नमरी लुच्चा नामक मैथिली फ़िल्मक भावी निर्माणक आभास दिया रहल अछि। विशेष बादमे…..

एलबमसं जुड़ल समस्त सहयोगीके शुभकामना !


विडियो देखबाक लेल नीचा क्लिक करु

Thursday, May 26, 2016

KUNAL THAKUR: IMPORTANT MAITHIL IN BOLYWOOD


कोनो फ़िल्मक निर्माणक पाछुमे कैकटा आदमीक सहयोग आ श्रम होयत अछि। बॉलिवुडमे छोटका या बड़का पर्दाके पाछुमे काज केनिहार एहने मैथिलमे एकटा पैघ नाम अछि कुणाल ठाकुर जेकि हिन्दी फिल्म आर टीवी जगतमे बहुत रास फ़िल्म आ सीरियलक प्रोडक्शन क’ चुकल छैथ।

मूल रुपसं मधुबनीक रहनिहार कुणाल जी सहायक प्रोडक्शन मैनेजरक रुपमे प्रसिद्ध फ़िम निर्देशक हैरी बाबेजाक संग फ़िल्म लव स्टोरी 2050, राइजिंग स्टार एन्टरटेनमेंट बैनर के अधीन बनल फ़िल्म “ अल्लाह के बन्दे”,  “ दे ताली”क समस्त ग्राउन्ड वर्क, “ऑल द बेस्ट”,आदिमे काज कएने छैथ। एहिके अतिरिक्त, कुणाल जी प्रोडक्शन नियंत्रक के रुपमे सेहो बहुत रास काज कएने छैथ जाहिमे बीग डैडी प्रोडक्शनक शो फ़िल्म “तेरे मेरे फ़ेरे”, केतन मेहता द्वारा निर्देशित “माझी द माउन्टेन मैन” , फ़िल्म “गुलमोहर” आदि शामिल अछि।


कुणाल जी फ़िल्म आ सीरियल के साथ साथ कैकटा एड फ़िल्ममे सेहो काज केने छैथ ।


मैथिली फ़िल्ममे सेहो एहन मैथिल प्रतिभाक योगदानक अपेक्षा अछि। ओना त’ कुणाल जी मुम्बईमे मिथिला-मैथिलीक संस्थासं जुड़ि काज कए रहला अछि, आशा अछि भविष्यमे मैथिल फ़िल्मक निर्माणमे कुणाल जी पदार्पण करताह आ मिथिला- मैथिलीक पताका सगरो फ़हरैता। मैथिली सिने दिससं कुणाल जीकें बहुत रास शुभकामना!

Monday, March 28, 2016

MITHILA MAKHANA BAGS NATIONAL AWARDS FOR THE BEST FILM IN MAITHILI

मिथिला महान, मिथिला मखानः मैथिली फ़िल्मकें भेटल राष्ट्रीय सम्मान


63म राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कारक घोषणा होयते मातर सगरो मिथिलामे हर्ष आ उल्लासक वातावरण बनि गेल अछि। कारण मिथिलाक मैथिली-भोजपुरी भाषी मैथिल सपूत नितिन चन्द्रा द्वारा चम्पारण टाकिज बैनरक अधीन निर्देशित मैथिली फ़िल्म “मिथिला मखाना हाउस प्राइवेट लिमिटेड”कें बेस्ट फ़िल्म इन मैथिलीक राष्ट्रीय पुरस्कार देल गेल अछि। फ़िल्ममे क्रान्ति प्रकाश झा, अनुरिता झा, गोपाल पाठक, पंकज झा, रंगकर्मी प्रेमलता मिश्र प्रेम आदि सहित कैकटा कलाकार मिथिलेसं लेल गेल अछि।  फ़िल्मक शूटिंग टोरोन्टो, स्विटजरलैण्ड, नेपाल सहित मिथिलाक विभिन्न क्षेत्रमे कएल गेल छल। ई निचित रुपसं मैथिली सिने प्रेमी लेल आह्लादकारी समाद अछि जे मैथिली सिनेमाके राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसा आ मान्यता भेटल। सबसं गौरवक बात ई थिक जे बिहार आर झारखंडक फ़िल्मक इतिहासमे "मिथिला मखाना" पहिल फ़ीचर फ़िल्म अछि जकराकि राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार भेटल अछि।

एहि फ़िल्म के बारेमे आह्लादित निर्देशक नितिन चन्द्र जी कहैत छैथ-

"मिथिला मखाना प्राईवेट लिमिटेड" सिर्फ एक फ़िल्म नहीं एक सोच है, जिसमें हम कुछ सवाल उठाते हैं और उसका जवाब भी देते हैं। सालों से मैथिली क्षेत्र से पलायन करते हुए युवाओं के सामने "मिथिला मखाना प्राईवेट लिमिटेड" एक सन्देश बन के आती है । 


पूर्वमे सेहो मैथिलीमे बनल किछु डॉक्युमेन्टरी फ़िल्म के राष्ट्रीय पुरस्कार भेटल अछि। कोसी समस्या पर आधारित अरविन्द सिन्हा जीक फ़िल्म दुई पाटन के बीच में” (1999) जेकि मैथिली आर हिन्दीमे बनल छल, के 47वां नेशनल अवार्ड के स्वर्णकमलसं पुरस्कृत कएल गेल छल। 53वां राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार के तहत 2005मे बनल प्रवीण कुमार द्वारा निर्देशित “नैना जोगिन’ के सेहो राष्ट्रीय पुरस्कारके रजतकमल पुरस्कार भेटल छल। एहि फ़िल्मक बेस्ट एडिटिंग के लेल स्वर्गीय विभूति नाथ झाकें बेस्ट एडिटरके एवार्ड प्रदान कएल गेल छल। विदित हो जे राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार फीचर तथा गैर फीचर फिल्म के लेल प्रदान कएल जायत अछि। मनोज श्रीपति द्वारा निर्देशित मैथिली टेलीफ़िल्म “रक्त तिलक” सेहो अनुशंसित, प्रशंसित आ पुरस्कृत अछि। - भास्कर झा, मैथिली सिनेवर्ल्ड